हमारे  बारे में उत्पाद पैलेट ऋण सेवाएँ जमा न्यूसरूम जानकारी संपर्क संबंधित लिंक होम
 हमारे  बारे में  
 » बैंक का प्रोफाइल
 » विज़न और मिशन
 » एमडी एवं सीईओ का प्रोफ़ाइल
 »  कार्यपालक निदेशक
 » निदेशक  मंडल
 » महाप्रबंधक
 » वित्तीय परिणाम
 » निवेशक
 » कॉर्पोरेट गर्वनेंस
 » आचार संहिता (pdf)
 » नोडल अधिकारी
 » वार्षिक आम बैठक
 » शेयर होल्डिंगपैटर्न
 » वार्षिक रिपोर्ट
 » इमेज

 
  मुख्य पृष्ट >प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यपालक अधिकारी
इंडियन बैंक के
प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यपालक अधिकारी
 

      श्री किशोर खरात ने 4 अप्रैल 2017 को इंडियन बैंक में प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यपालक अधिकारी के रूप में कार्यभार ग्रहण किया है। इससे पहले, वे 14 अगस्त 2015 से आईडीबीआई बैंक लिमिटेड में प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यपालक अधिकारी थे। श्री किशोर खरात अगस्त 2015 में आईडीबीआई बैंक लिमिटेड में प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यपालक अधिकारी के रूप पदोन्नति से पहले 10 मार्च 2015 से यूनियन बैंक ऑफ इंडिया में कार्यपालक निदेशक थे।

      आईडीबीआई बैंक लिमिटेड में प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यपालक अधिकारी के रूप में कार्यकाल के दौरान, उन्होंने आईडीबीआई पूंजी बाजार सेवाएं, आईडीबीआई आस्ति प्रबंधन लिमिटेड और आईडीबीआई बाजार सेवाएं और ट्रस्टीशिप सर्विसेज लिमिटेड की अध्यक्षता भी की। वे आईडीबीआई फेडरल लाइफ इन्श्युरेंश के साथ- साथ एक्सिम बैंक के बोर्ड में भी थे। श्री खरात भारतीय उद्यमीवृत्ति विकास संस्थान (ईडीआईआई) अहमदाबाद के गवर्निंग काउंसिल के अध्यक्ष थे। इसके अलावा, मनीला, फिलीप्पींस में मुख्यालय के साथ कार्यरत एशिया पेसिफ़िक के डीएफ़आई बोर्ड ऑफ एसोसिएशन (एडीएफआईएपी) में इन्होंने आईडीबीआई बैंक का प्रतिनिधित्व किया। श्री खरात भारत सरकार द्वारा स्थापित तनावग्रस्त आस्ति स्थिरता कोष (एसएएसएफ) के मुख्य कार्यकारी न्यासी भी थे।

      श्री किशोर खरात ने बैंक ऑफ बड़ौदा में अपने व्यावसायिक बैंकिंग कैरियर की शुरुआत की, जहां उनका 37 साल से अधिक समय का सफल कार्यकाल था। बैंक ऑफ बड़ौदा में, श्री किशोर खरात को त्रिनिदाद एंड टोबैगो, वेस्ट इंडीज में बैंक की विदेशी अनुषंगी कंपनी की स्थापना का श्रेय दिया गया था। उन्होंने तीन वर्ष से अधिक समय के लिए अनुषंगी कंपनी का प्रबंध निदेशक के रूप में कार्यभार संभाला। इस अवधि के दौरान, उन्होंने त्रिनिडाड एंड टोबैगो चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री की स्थापना में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। अपने पूर्व विदेशी कार्यकाल में श्री खरात ने बैंक ऑफ बड़ौदा, शारजाह (यूएई) में कार्य किया, जहां उन्होंने बैंक की बढ़ती क्रेडिट और विदेशी कारोबार में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

      बैंक ऑफ बड़ौदा में भारत और विदेश दोनों में अपने सेवाकाल के दौरान, श्री खरात के पास विभिन्न महत्वपूर्ण पहलुओं में व्यापक अनुभव और एक्सपोजर था जिनमें क्रेडिट, अंतर्राष्ट्रीय व्यापार, सूचना प्रौद्योगिकी और सामान्य प्रशासन शामिल है। श्री खरात ने बैंक ऑफ बड़ौदा में कार्यकाल के दौरान प्रमुख वित्तीय समावेशन पहल के कार्यान्वयन में भी महत्वपूर्ण योगदान दिया और इसके लिए, आरबीआई, आईबीए और भारत सरकार के साथ मिलकर समन्वय किया। वे वित्तीय समावेशन पर आरबीआई समिति के सदस्य थे, जिसे भारत में वित्तीय समावेशन को आगे बढ़ाने के लिए एक मध्यम अवधि रोडमैप तैयार करने की जिम्मेदारी दी गई थी। उन्होंने वित्तीय समावेशन पर आईबीए स्थायी समिति की वैकल्पिक अध्यक्षता भी की है।

      श्री खरात, वर्तमान में आईबीए की जोखिम प्रबंधन और बेसल कार्यान्वयन की स्थायी समिति के वैकल्पिक अध्यक्ष हैं। वे बैंकिंग पर सीआईआई राष्ट्रीय समिति के सदस्य भी हैं। श्री खरात वाणिज्य और कानून में स्नातक हैं और इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ बैंकर्स के एक सर्टिफाइड एसोसिएट हैं। उनके पास व्यवसाय प्रबंधन में स्नातकोत्तर की डिग्री भी है।

ED

श्री किशोर खरात

 
 
icon : Branch Network शाखा नेटवर्क
icon : Internet Banking इंडनेट बैंकिंग
icon : ATM Network एटीएम नेटवर्क
icon : IndMobile Banking इंडपे मोबाइल बैंकिंग
icon :  Debit Cards डेबिट कार्ड
icon : Credit Cards क्रेडिट कार्ड
  न्यूसरूम
 » अधिसूचनाएँ
 » जमा दरें
 » ऋण दरें
 » सेवा प्रभार / विदेशी मुद्रा दरें
 उत्पाद पैलेट
 » शिक्षा ऋण
 » धन प्रबंधन सेवाएँ
 » डिपॉजिटरी सेवाएँ
 जानकारी
 » बेसल II प्रकटीकरण
 » सूचना का अधिकार अधिनियम
 » ग्राहक केंद्रित सेवाएँ
 » उत्तम आचरण कोड
Home  |    Contact Us  |    Press-Release      Related Links       Downloads    IPV6    Disclaimer