हमारे  बारे में उत्पाद पैलेट ऋण सेवाएँ जमा न्यूसरूम जानकारी संपर्क संबंधित लिंक होम
   मुख्य पृष्ट > ऋण > इंड रिवर्स मार्टगेज
इंड रिवर्स मार्टगेज
मुख्य विशेषताएँ परिवार के लिए चिकित्‍सा, आपातकालीन व्‍यय  पेंशन / अन्‍य आय के अनुपूरक के रूप में  कोई अन्‍य वास्‍तविक आवश्‍यकता की प्रतिपूर्ति के लिए (सट्टेबाजी, ट्रेडिंग के प्रयोजनों के लिए अनुमति नहीं दी जाएगी)
पात्रतावरिष्‍ठ नागरिक स्‍वयं अर्जित आवासीय संपत्ति का स्‍वामी हो सकते है तथा उस पर उनका हक पूर्ण एवं भारमुक्‍त होना चाहिए तथा उनको उसमें स्‍वयं रहना चाहिए तथा यह संपत्ति प्रमुख जगह में स्थित घर या फ्लाट होना चाहिए। संपत्ति पर कोई भार नहीं होना चाहिए तथा घर / फ्लाट भारत में स्थित होना चाहिए। तथापि विरासती आवासीय संपत्ति को भी स्‍वीकार किया जा सकता है यदि वह बँटवारे के कारण या एकमात्र विधिक वारिस होने के कारण उनको मिला है बशर्ते हक विलेख पूर्ण एवं भारमुक्‍त हो।
ऋण की मात्रा ऋण की प्रमात्रा, बैंक द्वारा आकलित किए अनुसार आवासीय संपत्ति के उगाही-योग्‍य मूल्‍य पर निर्भर करेगी। बैंक के पैनल इंजीनियर द्वारा आकलित बाज़ार मूल्‍य से 10 प्रतिशत कम पर संपत्ति का उगाहीयोग्‍य मूल्‍य परिकलित किया जाता है।  अधिकतम ऋण राशि रुपए 40 लाख है।  नियमित मासिक किस्‍तों में वार्षिकी के रूप में ऋण वितरित किया जाएगा। रिवर्स मार्टगेज ऋण के आवेदकों द्वारा चिकित्‍सा व्‍यय की पूर्ति हेतु प्रयोग किए जाने के मामले में ही पात्र ऋण राशि के 20 प्रतिशत तक की एकमुश्‍त राशि प्रदान करने पर विचार किया जाएगा।  पात्र अधिकतम एकमुश्‍त राशि रुपया 15 लाख है।  संपत्ति का पुनर्मूल्‍यन 3 साल में एक बार किया जाए तथा ब्‍याज दर 5 वर्षों में एक बार रीसेट की जाए। आवधिक मासिक भुगतान ऐसे पुनर्मूल्‍यन पर आधारित होंगे तथा इसीपर आस्ति के मूल्‍य के आधार पर ऋण आधारित होगा। इसके लिए प्रारंभ में ही उधारकर्ता की सहमति प्राप्‍त की जाएगी।
मार्जिनसंपत्ति के उगाही योग्‍य मूल्‍य का 61 प्रतिशत
प्रोसेसिंग फीसवर्तमान ग्राहकों के लिए ''शून्‍य'' तथा अन्‍यों के लिए रुपए 285/- प्रति लाख।
पुनर्भुगतान अवधि 15 वर्ष, आवश्‍यकता पडने पर पुनर्मूल्‍यांकन के बाद रोल-ओवर कर लेने के प्रावधान के साथ।  बैंक रोलओवर के समय पर अतिरिक्‍त प्रतिभूति प्राप्‍त करने के अधिकार धारित रखता है।  रिवर्स मार्टगेज ऋण के लिए वाणिज्यिक संपत्ति अर्ह नहीं होगी। (संपत्ति जिस राज्‍य में अवस्थित है, वहॉं इसका प्रावधान है, तो आवेदक के खर्च पर साम्यिक बंधक पंजीकृत किया जाएगा)
आवेदन के प्रसंस्करण के लिए आवष्यक दस्तावेज़ 1. पासपोर्ट आकार के फोटोग्राफ सहित भरा गया आवेदन पत्र । 2. पैन कार्ड की प्रति 3. आवास का प्रमाण जैसे हाल ही का टेलीफोन बिल / बिजली बिल / संपत्ति कर रसीद / पासपोर्ट / मतदाता पहचान पत्र। 4. नाम, आयु एवं पते के साथ विधिक वारिसों की सूची 5. बिक्री करार 6. अनुमोदित भवन का प्‍लान 7. 30 वर्षों के लिए हक विलेख - प्रलेख 8. राजस्‍व के रिकॉर्डों में हक के प्रमाण (आवेदक के खर्च पर अधिकवक्‍ता से विधिक अभिमत, इंजीनियर से संपत्ति का मूल्‍यांकन आदि की व्‍यवस्‍था बैंक द्वारा की जाएगी)
बीमाप्रतिभूति के रूप में प्रदत्‍त संपत्ति को उधारकर्ता के खर्च पर बैंक खण्‍ड के साथ आग, बाढ़, भूकम्‍प, दंगे और अन्‍य जोखिमों के विरुद्ध, जो सामान्‍यतया बीमा कंपनियों द्वारा कवर किए जाते हैं, बीमाकृत किया जाए।
सुविधाएं1. उधारकर्ता / उनके पति / पत्‍नी के जीवनकाल के दौरान ऋण राशि की चुकौती आवश्‍यक नहीं है। अपने जीवनकाल के दौरान उधारकर्ता / उनकी पत्‍नी / पति अपने घर में रहना जारी रख सकते हैं। 2. समय से पूर्व चुकौती का विकल्‍प उपलब्‍ध है जिनपर इस प्रकार की चुकौती हेतु प्रभार नहीं लगाए जाएंगे।
 
icon : Branch Network शाखा नेटवर्क
icon : Internet Banking इंडनेट बैंकिंग
icon : ATM Network एटीएम नेटवर्क
icon : IndMobile Banking इंडपे मोबाइल बैंकिंग
icon :  Debit Cards डेबिट कार्ड
icon : Credit Cards क्रेडिट कार्ड
  न्यूसरूम
 » अधिसूचनाएँ
 » जमा दरें
 » ऋण दरें
 » सेवा प्रभार / विदेशी मुद्रा दरें
 उत्पाद पैलेट
 » शिक्षा ऋण
 » धन प्रबंधन सेवाएँ
 » डिपॉजिटरी सेवाएँ
 जानकारी
 » बेसल II प्रकटीकरण
 » सूचना का अधिकार अधिनियम
 » ग्राहक केंद्रित सेवाएँ
 » उत्तम आचरण कोड
प्रेस विज्ञप्तियां  |  निविदा / बोली /नीलामी |  करियर  |  डाउनलोड  |  अस्वीकरण  |   | आनलाइन ग्राहक शिकायत