हमारे  बारे में उत्पाद पैलेट ऋण सेवाएँ जमा न्यूसरूम जानकारी संपर्क संबंधित लिंक होम
   गृह पृष्ठ >  उत्पाद पैलेट > ब्याज सब्सिडी ( सीएसआईएस ) प्रदान करने के लिए केन्द्रीय योजना

भारत में तकनीकी / व्यावसायिक शिक्षा प्राप्त करने के लिए भारतीय बैंक संघ ( आईबीए) की शिक्षा ऋण योजना के तहत आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों (ईडब्ल्यूएस) के छात्रों द्वारा किए गए शिक्षा ऋण के स्थगन की अवधि के लिए ब्याज सब्सिडी (सीएसआईएस) प्रदान करने के लिए केन्द्रीय योजना :

भारत सरकार , मानव संसाधन विकास मंत्रालय , उच्च शिक्षा विभाग , नई दिल्ली ने सरकार आईबीए शैक्षिक ऋण योजना के तहत ईडब्ल्यूएस से छात्रों के लाभ हेतु शैक्षिक ऋण की अधिस्थगन अवधि के लिए " ब्याज सब्सिडी (सीएसआईएस ) प्रदान करने के लिए केन्द्रीय योजना " के नाम से एक योजना शुरू की है जोकि भारत में व्यावसायिक / तकनीकी पाठ्यक्रमों के अध्ययन में लगे हुए छात्रों के लिए है।। यह योजना शैक्षिक वर्ष 2009-10 से प्रभावी है ।

योजना की मुख्य विशेषताओं में से कुछ नीचे दी गई हैं:


इस योजना का उद्देश्य

भारतीय बैंक संघ की शिक्षा ऋण योजना के तहत भारत में मान्यता प्राप्त संस्थानों से , तकनीकी और पेशेवर धाराओं में पाठ्यक्रमों में से किसी की भी पढ़ाई करने के लिए भारत सरकार द्वारा अनुमोदित योजना के तहत अनुसूचित बैंकों से आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के छात्रों द्वारा लिए गए ऋणों पर सम्पूर्ण स्थगन अवधि, अर्थात पाठ्यक्रमकि अवधि + नौकरी मिलने के बाद एक वर्ष या छह महीने , जो भी पहले हो, के लिए पूर्ण ब्याज सब्सिडी प्रदान करने के लिए एक योजना को मंजूरी दी गई है

योजना की प्रयोज्यता

योजना केवल भारत में मान्यता प्राप्त तकनीकी / व्यावसायिक पाठ्यक्रमों के अध्ययन के लिए लागू होगी । ब्याज सब्सिडी आईबीए की मौजूदा शिक्षा ऋण योजना के साथ जुडी हुई है और संसद के अधिनियम द्वारा स्थापित शिक्षा संस्थानों में भारत (कक्षा बारहवीं के बाद ) मान्यता प्राप्त तकनीकी / व्यावसायिक पाठ्यक्रमों, संबंधित सांविधिक निकायों द्वारा मान्यता प्राप्त अन्य संस्थानों भारतीय प्रबंधन ( आईआईएमएस ) और केन्द्रीय / राज्य सरकार द्वारा गठित अन्य संस्थाओं के संस्थानों में दाखिला पाने वाले छात्रों के लिए ही लागू किया जाएगा ।

ब्याज दरें

शिक्षा ऋण पर ब्याज दरें व्यक्तिगत बैंकों के बीपीएलआर / आधार दर के अनुसार लागू होंगी ।

अधिस्थगन अवधि

इस योजना के तहत तकनीकी / व्यावसायिक यानी कोर्स स्थगन की अवधि के लिए भारत में पाठ्यक्रमों कोर्स अवधि के अलावा नौकरी मिलने के बाद एक साल या छह महीने जो भी पहले हो के लिए शिक्षा ऋण का लाभ उठाने के लिए ईडब्ल्यूएस से संबंधित छात्र द्वारा देय ब्याज स्थगन की अवधि समाप्त होने के बाद , बकाया ऋण राशि पर ब्याज बैंकों की मौजूदा शिक्षा ऋण योजना के प्रावधानों के अनुसार का छात्र द्वारा भुगतान किया जाएगा और समय से जो भी पहले हो समय के लिए संशोधन किया जा सकता है ।

आय सीमा / सबूत

योजना का लाभ ( सभी स्रोतों से ) प्रति वर्ष रु..4.50 लाख की वार्षिक सकल पैतृक / परिवार की आय की ऊपरी सीमा के साथ , आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों (ईडब्ल्यूएस ) के लोगों के छात्रों के लिए लागू होगी । योजना सामाजिक पृष्ठभूमि पर आर्थिक सूचकांक और पर आधारित नहीं है जो सभी स्रोतों से परिवार की निर्धारित ऊपरी पैतृक सकल आय सीमा के साथ ईडब्ल्यूएस से संबंधित छात्रों की जरूरतों को पूरा करने का इरादा है। यह योजना आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों की आवश्यकताओं को पूरा कर सकती है और यह अन्य योजनाओं से स्वतंत्र है ।

सक्षम प्राधिकारी

मानव संसाधन विकास मंत्रालय , भारत सरकार उपयुक्त प्राधिकारी या इस योजना के उद्देश्य हेतु आर्थिक सूचकांक पर आधारित आय प्रमाण पत्र न कि सामाजिक पृष्ठभूमि पर आधारित होगा ,इस उद्देश्य हेतु बैंकों को जिला स्तरीय परामर्शदात्री समितियों ( DLCCs) के माध्यम से संप्रेषित राज्य सरकारों द्वारा प्रमाणीकरण प्राधिकारी की अधिसूचना के आधार पर योजना को लागू करने के लिए सक्षम होगा जो अधिकारियों को नामित करने के लिए उन्हें अनुरोध भेज कर सभी राज्य सरकारों को एक सलाहकारी जारी करेगा ।

ब्याज सब्सिडी(इमदाद) के लिए पात्रता

योजना के तहत ब्याज सब्सिडी या तो भारत में पहले स्नातक डिग्री पाठ्यक्रम या स्नातकोत्तर डिग्री / डिप्लोमा के लिए , केवल एक बार पात्र छात्रों के लिए उपलब्ध हो जाएगी ।
ब्याज सब्सिडी , तथापि , एकीकृत पाठ्यक्रम ( ग्रेजुएट + पोस्ट ग्रेजुएट ) के लिए स्वीकार्य होगी।
ब्याज सब्सिडी निम्नलिखित छात्र उधारकर्ताओं के लिए उपलब्ध नहीं होगी ,
उन छात्रों को जो पाठ्यक्रम को बीच में छोड़ देते हैं या एक बार अनुशासनात्मक या अकादमिक कारणों के आधार पर संस्थानों से निष्कासित कर दिए गए हों ।
जबकि ,अगर विच्छेदन चिकित्सा की वजह से हुआ था तो उसके लिए शैक्षणिक संस्थान के प्रमुख की संतुष्टि हेतु आवश्यक प्रलेखन दिए जाने के बाद , ब्याज सब्सिडी उपलब्ध कराई जाएगी।

नोडल बैंक

यह योजना केनरा बैंक, के माध्यम से कार्यान्वित की जाएगी जो इस योजना के लिए नोडल बैंक है। हालांकि, छात्र उसी में जहां से उसने ऋण लिया है उस शाखा के माध्यम से इस योजना के तहत आवेदन कर सकते हैं और इसका लाभ उठा सकते हैं ।

लागू शैक्षिक वर्ष

योजना शैक्षिक वर्ष 2009-10 से लागू होगी । 1 अप्रैल 2009 से शुरू होगी । केवल शैक्षणिक वर्ष 2009-10 से शुरू ऋण राशि (चाहे मंजूरी की तारीख से ) को ब्याज सब्सिडी की योजना में शामिल किया जाएगा । शैक्षणिक वर्ष 2009-10 से पहले शुरू होने वाले पाठ्यक्रमों के लिए वितरित राशि पर ब्याज सब्सिडी के लिए विचार नहीं किया जाएगा ।

तकनीकी / व्यावसायिक पाठ्यक्रम की सूची

छात्र संसद के अधिनियम द्वारा स्थापित शिक्षा संस्थानों में भारत में (कक्षा बारहवीं के बाद ) मान्यता प्राप्त तकनीकी / व्यावसायिक पाठ्यक्रमों में दाखिला लिया , यूजीसी / एआईसीटीई और अन्य सांविधिक निकायों द्वारा मान्यता प्राप्त अन्य संस्थानों , भारतीय प्रबंधन संस्थानों (आईआईएम) और अन्य केन्द्रीय / राज्य सरकार संस्थाओं द्वारा स्थापित संस्थानों में ।

पात्र पाठ्यक्रम की सांकेतिक सूची

स्नातक पाठ्यक्रम और इंजीनियरिंग में स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम ( इ / एमई , बी टेक / एम. टेक , आर्क / स्नातकोत्तर वास्तु आदि ) मेडिकल / पैरा मेडिकल (एमबीबीएस / एमडी , विज्ञान में स्नातक / उपचर्या में स्नातक , बीफार्मा/एमफार्मा , बीपीटी / एमपीटी , बीओआई / एमओआई, सिद्धा , आयुर्वेद , होम्योपैथी , प्राकृतिक चिकित्सा आदि ) कृषि , पशु चिकित्सा , विधि, दंत चिकित्सा ( बीडीएस / एमडीएस) , प्रबंधन, कंप्यूटर ( एमसीए) आदि ।

गैर पात्र पाठ्यक्रम की सूची

विदेश संस्थानों में अध्ययन के लिए , पाठ्यक्रम कला , विज्ञान, वाणिज्य , समाजशास्त्र , संगीत आदि में स्नातक और स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों के तहत बारहवीं कक्षा , गैर पेशेवर और गैर तकनीकी के अंतर्गत डिप्लोमा पाठ्यक्रम , शिक्षक प्रशिक्षण पाठ्यक्रम , कौशल विकास, व्यावसायिक प्रशिक्षण पाठ्यक्रम आदि ।



 
icon : Branch Network शाखा नेटवर्क
icon : Internet Banking इंडनेट बैंकिंग
icon : ATM Network एटीएम नेटवर्क
icon : IndMobile Banking इंडपे मोबाइल बैंकिंग
icon :  Debit Cards डेबिट कार्ड
icon : Credit Cards क्रेडिट कार्ड
  न्यूसरूम
 » अधिसूचनाएँ
 » जमा दरें
 » ऋण दरें
 » सेवा प्रभार / विदेशी मुद्रा दरें
 उत्पाद पैलेट
 » शिक्षा ऋण
 » धन प्रबंधन सेवाएँ
 » डिपॉजिटरी सेवाएँ
 जानकारी
 » बेसल II प्रकटीकरण
 » सूचना का अधिकार अधिनियम
 » ग्राहक केंद्रित सेवाएँ
 » उत्तम आचरण कोड
प्रेस विज्ञप्तियां  |  निविदा / बोली /नीलामी |  करियर  |  डाउनलोड  |  अस्वीकरण  |   | आनलाइन ग्राहक शिकायत