राष्ट्रीय टोल फ्री नंबर1800 425 00 000

प्लॉट लोन

प्लॉट लोन

लक्ष्य समूह व्यक्तियों की पात्रता/ आवेदकों की आयु/ आय स्तर का निर्धारण/ एनटीएचपी निवासियों/एनआरआई के लिए गृह ऋण योजना के अनुसार
उद्देश्य मालिकाना हक (पट्टे के आधार पर नहीं) के आधार पर घर हेतु जमीन की खरीद के लिए जो सक्षम प्राधिकारी द्वारा अनुमोदित होनी चाहिए
ऋण राशि अधिकतम रु.1200.00 लाख के अधीन मासिक सकल आय (वेतनभोगी वर्ग के लिए नवीनतम वेतन पर्ची के अनुसार) का 36 गुणा तक या वार्षिक निवल आय का तीन गुणा (पी एंड एसई / व्यावसायिक श्रेणी के मामले में- नवीनतम दो वर्षों के औसत के आधार पर)
निम्न स्थानों में संपत्ति की खरीद ऋण राशि (रुपये लाख में)
ग्रामीण क्षेत्र 100.00
अर्द्ध शहरी  200.00
शहरी  600.00
मेट्रो  1200.00
मार्जिन प्लॉट की लागत पर निवासियों और एनआरआई के लिए अधिकतम 25%

एलटीवी का अनुपात 75% से अधिक नहीं होना चाहिए। यदि खरीदी जाने वाली जमीन का मूल्य रु.100.00 लाख से अधिक हो तो दो स्वतंत्र पैनल इंजीनियरों का मूल्यांकन प्राप्त किया जाए।

प्रसंस्करण शुल्क
  • समय-समय पर कॉर्पोरेट कार्यालय के निर्देशानुसार
ब्याज दरें
  • प्लॉट ऋण हेतु ब्याज दर गृह ऋण पर लागू ब्याज दर से 1% अधिक होती है और इस अतिरिक्त ब्याज को निम्नलिखित शर्तों के अधीन छोड़ा जा सकता है:
  • निर्माण के लिए हमारे बैंक से गृह ऋण लेने पर
  • ग्राहकों द्वारा किए गए अनुरोध के आधार पर अपने स्रोत से घर का निर्माण पूरा करने पर और विधिवत रूप से इंजीनियर से प्रमाणपत्र दिये जाने पर। तथापि, ब्याज दर में छूट संस्वीकृति तिथि से प्रभावी होगी, न कि निर्माण पूरा होने पर।
  • सरकारी एचएडी के मामले में कब्जा लेने की तारीख से दो वर्ष के भीतर निर्माण शुरू करने पर।
  • अन्य लोगों के लिए, ऋण लेने की तारीख से दो साल के भीतर निर्माण शुरू करने पर।
  • यदि अधिकतम निर्धारित अवधि के भीतर निर्माण शुरू नहीं किया जाता है तो प्रारंभ की जानेवाली निर्धारित अवधि की समाप्ति पर इंड मोर्टगेज ऋण पर लागू होने वाली ब्याज दर के अनुसार उच्च ब्याज दर विलंबित अवधि के लिए लागू होगी।
पुनर्भुगतान
  • अधिकतम 180 माह। कोई अधिस्थगन अवधि नहीं।
ज़मानत
  • घर हेतु खरीदी जाने वाली जमीन की ईएम और ईएम को पंजीकृत किया जाए।
अन्य शर्तें
  • एनआरआई / पीआईओ के लिए ग्रामीण क्षेत्रों में जमीन की खरीद की अनुमति नहीं है
  • संपत्ति को बाड़ / परिसर की दीवारों द्वारा ठीक से संरक्षित किया जाना चाहिए
  • खरीदी जाने वाली संपत्ति एक अच्छे, सुलभ, विकसित / विकासशील क्षेत्र में होनी चाहिए
  • चुकाए गए ब्याज और किश्तों पर आयकर लाभ नहीं मिलेगा

( अंतिम संशोधन May 21, 2021 at 06:05:35 PM )

आद्या से पूछें
ADYA