राष्ट्रीय टोल फ्री नंबर1800 425 00 000
 
राष्ट्रीय टोल फ्री नंबर1800 425 00 000

केंद्रीकृत पेंशन संसाधन प्रणाली

केंद्रीकृत पेंशन संसाधन प्रणाली

पेंशनर्स हमारे बैंक के राजदूत हैं जो योग्य ग्राहक हैं और वे हमारे बैंक के व्यवसाय विकास के लिए महत्वपूर्ण स्रोत हैं। सभी पेंशनरों को बेहतर और शिकायतमुक्त नि:शुल्क सेवा प्रदान करने की दृष्टि से, पेंशन नियमों को ध्यान में रख कर, इंडियन बैंक ने पूरे देश में सभी पेंशन भुगतान शाखाओं में पेंशन के भुगतान को केंद्रीकृत कर दिया है । हमारे इंडियन बैंक से पेंशन प्राप्त करने वाले सभी पेंशनरों के लिए केंद्रीकृत स्तर पर पेंशन की गणना हेतु हमारे बैंक ने चेन्नै में केन्द्रीकृत पेंशन प्रोसेसिंग सेंटर स्थापित किया है । संशोधित डीए, डीए का बकाया सहित पेंशन भुगतान मापदंडों में सभी परिवर्तन आदि भी केन्द्रीय स्टार पर किये जाते हैं और केंद्रीकृत पेंशन संसाधन प्रणाली (सीपीपी) में उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार ही की गणना के द्वारा वेतन आयोग की सिफारिशों के अनुसार बकाया राशि का भुगतान किया जाता है हम पेंशनरों के सभी वर्गों के लिए पेंशन का समय पर और सही भुगतान का आश्वासन देते हैं।

अपने कर्मचारियों के लिए सेवानिवृत्ति लाभों में से एक के रूप में पेंशन केंद्र तथा राज्य सरकारों द्वारा दी जाती है। सभी सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों को सरकार की ओर से पेंशन भुगतान करने के लिए अधिकृत किया गया है।

हमारा बैंक अखिल भारतीय आधार पर पेंशनरों की निम्नलिखित श्रेणियों के लिए पेंशन भुगतान की सुविधा प्रदान करता है :

  • केन्द्रीय नागरिक
  • रक्षा
  • स्वतंत्रता सेनानियों ( केन्द्रीय / राज्य )
  • रेलवे (01/10/2013 से प्रभावी )

हमारा बैंक देश भर में 26 अंचलों की लगभग 1300 शाखाओं में ( अहमदाबाद , चंडीगढ़ , गाजियाबाद , गुवाहाटी , करनाल , पुणे और पटना अंचल को छोड़कर ) शाखाओं के माध्यम से पेंशनरों को निम्नलिखित श्रेणियों के लिए पेंशन भुगतान की सुविधा प्रदान करता है :

  • डाकघर
  • विभिन्न राज्यों के राज्य सरकार पेंशन

इंडियन बैंक इन-हाउस सॉफ्टवेयर के माध्यम से 01.04.2009 से प्रभावी केन्द्रीकृत पेंशन प्रसंस्करण प्रणाली शुरू की है। केन्द्रीकृत पेंशन प्रोसेसिंग सेंटर ( सीपीपीसी ) शाखा चेन्नै में स्थित है। संसाधन, रिपोर्ट निर्माण और पेंशन जमा करना सीपीपीसी हेतु केंद्रीकृत किया गया हैं ।

भुगतान शाखाओं में निर्माता और चेकर सुविधा की एक सुरक्षित प्रणाली का उपयोग करते हुए अपनी शाखा में पेंशनरों से संबंधित डेटा को अद्यतन करने का अधिकार दिया गया है । हमारे बैंक के मौजूदा पेंशनरों के लिए पेंशन डेटा में आगे होने वाले किसी की परिवर्तन / संशोधन केवल ( शुद्धिपत्र पीपीओ , पेंशनभोगी की मौत, अन्य शाखाओं / बैंकों को पेंशन में बदलाव) का भुगतान बैंक शाखा द्वारा किया जाता है ।

इंडियन बैंक से पेंशन वितरण सुविधा का लाभ उठाने के लिए आवश्यक विवरण निम्नानुसार हैं :

  • पेंशन के प्रारंभ होने से पूर्व – अधिमानतः पेंशनर्स का हमारे बैंक में पति/पत्नी के साथ (ई या एस) संयुक्त बचत बैंक खाता होना चाहिए ।
  • एक ही पीपीओ द्वारा पेंशन राशि जमा करने के लिए संबंधित लिंक शाखा के माध्यम से भुगतान शाखा को पीपीओ भेजने के लिए अधिकारियों को जारी करने के लिए सूचित किया गया है ।
  पेंशन की गणना की विधि

पेंशनरों का निवल पेंशन निम्नलिखित जोड़कर मिलती है :

  • मूल पेंशन
  • Disability Pension
  • विकलांगता पेंशन
  • महंगाई पेंशन
  • व्यक्तिगत पेंशन
  • डीए राहत राशि
  • चिकित्सा भत्ता
  • अन्य भत्ते और निम्नलिखित की कटौती
  • रूपान्तरण कटौती राशि
  • कोई अतिरिक्त पेंशन का भुगतान
  • आयकर राशि

डीए राहत की गणना नीचे के रूप में की जाती है :
डीए राहत राशि = ( मूल पेंशन + विकलांगता पेंशन + मंहगाई पेंशन) * डीए %

  अन्य महत्वपूर्ण बिंदुओं :
  1. विकलांगता पेंशन सैनिक पेंशनरों को ही दी जाती है । पीपीओ निर्देशों के अनुसार यह अस्थायी या स्थायी हो सकती है ।
  1. महंगाई पेंशन: 31/03/2004 को या उससे पहले रिटायर होने वाले पेंशनर महंगाई पेंशन के 50% के लिए पात्र हैं कृपया ध्यान दें कि यह मंहगाई पेंशन छठे वेतन आयोग संशोधन के बाद समाप्त कर दी गई है ।
  1. चिकित्सा भत्ता – ईसीएचएस योजना के तहत जो पेंशनर नहीं आते हैं उनके लिए केन्द्रीय सिविल , डिफेंस , रेलवे , टेलीकॉम , तमिलनाडु राज्य , आदि श्रेणियों से संबंधित पेंशनर चिकित्सा भत्ता 100/-रुपये के लिए पात्र है ।
  1. अन्य भत्ते:

सैनिकों के लिए : अनुग्रहपूर्वक / लगातार आने भत्ता / वीरता पुरस्कार आदि

  1. संराशीकरण (कम्मयूटेशन) कटौती: हमारी प्रणाली स्वतः उड़ीसा राज्य सरकार के पेंशनरों को छोड़कर सभी पेंशनरों के लिए संराशीकरण (कम्मयूटेशन) राशि के भुगतान की तारीख से 15 वर्षों के बाद संराशीकरण (कम्मयूटेशन) किश्तों को बहाल कर देगी , उनके लिए यह 12 साल के बाद बहाल हो जाएगा ।
  1. वर्धित परिवार पेंशन का केवल पीपीओ में निर्धारित तिथि तक भुगतान किया जाता है । निर्धारित तिथि के बाद, सामान्य परिवार पेंशन का स्वचालित रूप से भुगतान किया जाता है ।
  1. आयकर हमारे बैंक में सीपीपीसी द्वारा पेंशन भुगतान पर स्रोत से कटौती की जाती है । पेंशनर्स पेंशन टैक्स छूट का दावा करने के प्रयोजन के लिए बचत / निवेश विवरण शाखाओं में प्रस्तुत करने का अनुरोध किया जाना चाहिए जहां पेंशन जमा होती है ।
  1. पेंशनर को हमारी किसी भी शाखा में , हर साल नवंबर के महीने में उनका जीवन प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना होगा ।

पेंशन पर्ची की डाउनलोडिंग

  1. पेंशनर जो हमारे बैंक की नेट बैंकिंग सुविधा का लाभ उठा रहे हैं वे किसी भी समय पेंशन पर्ची डाउनलोड कर सकते हैं ।
    * नेविगेशन: पेंशनर http://www.indianbank.net.in में मान्य उपयोगकर्ता आईडी और पासवर्ड के साथ प्रवेश करें।
    डीमैट / पेंशन में मेनू का चयन करें -> पेंशन जांच > पीपीओ सं का चयन करें और वर्ष और महिना > प्रदर्शन क्लिक करें
    पेंशन स्लिप प्रदर्शित हो जाएगा । वैबसाइट में पेंशन पर्ची मुद्रण की सुविधा भी प्रदान की जाती है ।
   हमसे संपर्क करें :

इंडियन बैंक पेंशन ग्राहक इस ई-मेल के माध्यम से संपर्क कर सकते हैं।
cppc[at]indianbank[dot]co[dot]in
सुझाव, शिकायत या जांच के लिए .

सीपीपीसी चेन्नै में स्थित है
केन्द्रीकृत पेंशन प्रसंस्करण केंद्र ,
इंडियन बैंक , 4 तल
66 , राजाजी सालै
चेन्नै -600 001
फोन : 044 – 25231756/25231757
फैक्स: – 2523 1751 044
मोबाइल: 9445030401 /2

( अंतिम संशोधन Mar 20, 2019 at 12:03:12 PM )