राष्ट्रीय टोल फ्री नंबर1800 425 00 000

आईबी ट्रेडवेल

आईबी ट्रेडवेल

मुख्य विशेषताएँ

  • थोक और खुदरा विक्रेताओं के लिए निम्नलिखित उद्देश्यों को पूरा करने की एक योजना: व्यापारिक गतिविधियों की कार्यशील पूंजी की जरूरतों को पूरा करना और होर्डिंग, शो केस, बुनियादी कार्यालयों, सुविधाओं, डिलीवरी वैन की खरीद आदि जैसे बुनियादी सुविधाओं की खरीद /स्थापना के लिए सावधि ऋण आवश्यकताओं को पूरा करना

ऋण की मात्रा

  • कार्यशील पूंजी (एफबी और (एनएफबी ) 5 करोड रूपए़. सावधि ऋण (अधिकतम) एक करोड़.रूपए़. कार्यशील पूंजी के 25 प्रतिशत तक उप सीमा। एफबी सीमा को चेक बी.पी. के रूप में अनुमति दी जा सकती है.

मार्जिन

  • सावधि ऋण: उपकरणों के मूल्य पर 25 प्रतिशत मार्जिन.

ब्याज दर

  • कृपया होम पेज पर ब्याज दर लिंक देखें

पुनर्भुगतान अवधि

  • मीयादी ऋण: 1.50 की न्यूनतम डीएससीआर सहित अधिकतम 48 महीने (2 महीने की अवकाश अवधि को छोड़कर) कार्यशील पूंजी: नवीनीकरण हर एक वर्ष

जमानत

  • प्राथमिक जमानत: अचल संपत्ति: बाजार मूल्य पर 50 प्रतिशत। अन्य गोचर जमानत मौजूदा बैंक मानदंडों के अनुसार (एनएससी, केवीपी, आईवीपी, एलआईसी पॉलिसी का समर्पण मूल्य, अखिल भारतीय वित्तीय संस्थाओं के बांड)। संपार्श्विक जमानत: स्टॉक और बही ऋण शून्य मार्जिन. रुपये 1 करोड से अधिक की कार्यशील पूंजी सीमा के लिए (ओसीसी). प्राथमिकः स्टॉक और बही ऋण 15 प्रतिशत मार्जिन (अचल संपत्ति और / या अन्य गोचर प्रतिभूति मूल्य स्वीकृत सीमा का न्यूनतम 100 प्रतिशत होना चाहिए। अंचल पबंधक संपार्श्विक को स्वीकृत सीमा के 50 प्रतिशत तक रखने पर व्यापार के रूप से चयनात्मक आधार पर विचार कर सकते हैं। तीसरे पक्ष की संपार्श्विक जमानत भी स्वीकार की जा सकती और ऐसी स्थिति में मालिक से संपत्ति पर बंधक बनाने के प्रस्ताव को और पूर्ण अग्रिम के लिए उसकी व्यक्तिगत गारंटी ली जा सकती है. संपत्ति के मालिक द्वारा हक विलेख स्वयं जमा की जानी चाहिए न कि मुख्तरनामे के माध्यम से).

( अंतिम संशोधन May 20, 2019 at 04:05:29 PM )